•——-[किसी का साथ]——–•


•-------[किसी का साथ]--------•

अपनी राहों में ,
साथ किसी का मिल जाए,
राहे पल भर में बीत जाती है ,
किसी का साथ हमारा हौसला बढ़ाती है |

अँधेरे में एक छोटा दीप ,
प्रकाश से भर देता है|
वैसे ही साथ किसी का,
सब कुछ बदल देता है|

कोई राहों में साथ दे ना दे |
एक साथ जीवन में खुशियां लाता है,
किसी का साथ,
हर अकेलेपन को भगाता है |

ना किसी के साथ पर ,
कुछ बातें मन में ही रह जाती है|
मन में आकर, मुख पर ना आ पाती है ,
किसी का साथ मन को शांत कर जाती है|

Poem Rating:
Click To Rate This Poem!

Continue Rating Poems


Share This Poem