रेप हो जाएगा ।


चुप हो जाओ , ज़्यादा मत चिल्लाओ ,
नही तो तुम्हे कोई देख जाएगा।
किसी की नज़रो मैं मत आओ ,
नही तो कोई नज़रो से नंगा कर जाएगा ।
और लड़की हो ज़्यादा बहस मत करो ,
नही तो रेप हो जाएगा।

Poem Rating:
Click To Rate This Poem!

Continue Rating Poems


Share This Poem