हम कौन है


हम कौन हैं

हम वो हैं, जो इन खाली पन्नों को लफ्जों से भरते हैं,
हम वह है, जो आपके एहसास को हकीकत में बदलते हैं,

चमकते सितारों को हम मोतियों की तरह पिरोते है,
लकीरों की तरह हम शब्दों की तकदीर लिखते हैं,

ज़माना भी झुकता है हमारी कलम के सामने,
खुदा भी मेहरबान है हमारी सोच के सामने,

राहे भी बदल जाती है,
मोड़ भी आ जाती है,
यह लेखक की जिंदगी है,
बिना स्याही और कागज के,उनकी दुनिया ही खत्म हो जाती हैं||

Poem Rating:
Click To Rate This Poem!

Continue Rating Poems


Share This Poem