Dear Negi


दोस्ती ही तो है एक ऐसा रिश्ता है जो जिंदगी के एक रंग में भी कई रंग दिखाता है ।
वरना बिना दोस्तों के रंगीन जिंदगी भी बेरंग सी नजर आती है ॥
आपकी सच्ची दोस्ती से बढ़कर इस दुनिया में कुछ कहाँ है ।
आप जैसा एक दोस्त सच्चा है आप जैसा तो अपना सारा जहाँ है ॥
आप साथ हो मेरे तो डर किस उड़ती चिड़िया का नाम है ।
मस्त- मस्ती में बस हर दम खिलखिलाने का मेरे काम है ॥
जब हो कोई tension या किसी problem से हों परेशान ।
तब आप के साथ होने से ही हो जाता है सारी समस्या का समाधान ॥
आपकी नजरें ही कह देती हैं चल Anu इसे भी देख लेते हैं ।
और हर भी पल में यूँ ही मुस्कुराने की हिम्मत दे देते हैं ॥
जब होता है आपका साथ तो खुद में ही हिम्मत सी आ जाती है
और चेहरा घोर उदासी में भी खिलखिला कर मुस्कुरा पड़ता है ॥
आप ही तो हैं जो बिना कुछ बोले सब जान लेते हैं ।
और हर expressions को दूर से ही भाँप लेते हैं ॥
आप के साथ मिल कर हर बोझ हल्का हो जाता है ।
आप से मिलकर पल में ही मन को सुकून मिल जाता है ॥
दिन भर शरारत करना और रात भर उन पर खिलखिलाना ।
और पुरानी बातों का ताजा करके यूँ ही पूरा दिन बिताना
अब हो गए है आदत ॥

Poem Rating:
Click To Rate This Poem!

Continue Rating Poems


Share This Poem